निदेशक की कलम से

          

दिशाकल्पः मेरा पृष्ठ
शिविरा -मई-जून, 2019      
उत्कृष्ट शैक्षिक वातावरण
वार्षिक परीक्षाओं और समस्त शैक्षिक गतिविधियों के सफल संचालन करने वाले संस्था प्रधानों, शिक्षकों और विभाग के सभी सहयोगियों का शिक्षा सत्र 2018-19 के समापन तथा नवीन सत्र 2019-20 के शुभारम्भ पर हार्दिक बधाई ! शुभकामनाएँ !!
मुझे खुशी है कि शिक्षा विभाग राजस्थान, विद्यालयी शिक्षा में एक परिवार की तरह समूह भावना(Team Sprit) से कार्य कर रहा है। दृढ़इच्छा शक्ति और कठोर परिश्रम के बल पर राज्य में शिक्षा के प्रति उत्कृष्ट शैक्षिक वातावरण का निर्माण हुआ है, वैसे तो प्रत्येक शिक्षक की भूमिका महत्त्वपूर्ण है लेकिन जहाँ संस्थाप्रधान ने पहल कर अपनी टीम भावना से कार्य किया है, उन स्कूलों में प्रत्येक क्षेत्र यथा अवसंरचना, शैक्षणिक वातावरण में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है एवं नामांकन में आशातीत वृद्धि की है। हमारे राजकीय विद्यालयों के परीक्षा परिणामों की श्रेष्ठता, उत्साहजनक नामांकन वृद्धि, विद्यालयों के भौतिक स्वरूप में उल्लेखनीय उत्कृष्टता का ही सुफल है कि विद्यार्थियों, अभिभावकों और भामाशाहों की पहली पसन्द राजकीय विद्यालय हैं। आइए, हम दृढ़ संकल्प लें कि पढ़ने योग्य प्रत्येक बालक-बालिका को राजकीय विद्यालय में प्रवेश दिलाकर उसे आनंददायी शैक्षिक वातावरण में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करेंगे।
मई माह की 09 तारीख को राजकीय विद्यालयों द्वारा वृहद स्तर पर बालसभाओं का आयोजन करना है। ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायतों और सार्वजनिक स्थलों पर स्थानीय एवं विशिष्ट व्यक्तित्वों को आमंत्रित कर उन्हें अपने विद्यालयों की गतिविधियों से अवगत करवाते हुए उसके विकास और विशिष्ठताओ के लिए साझा प्रयास करना है। विद्यार्थियों के परीक्षा परिणामों की घोषणा करनी है , उनकी विशिष्ट उपलब्धियों के लिए उन्हें पुरस्कृत करना है। संस्थाप्रधानों और शिक्षकों को चाहिए कि इस विशिष्ट सभा का विद्यार्थी और विद्यालय हित में भरपूर लाभ लें। 09 मई की सभा इस दृष्टि से भी महत्त्वपूर्ण है कि स्थानीय परिवेश में अभिभावकों और भामाशाहों में राजकीय विद्यालयों के प्रति विशसनीयता और सुदृढ़ हो, वे आशवस्त  हों कि राजकीय विद्यालयों में विद्याध्यन कर रहे हमारे बच्चे जीवन के हर क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए तैयार हो रहे हैं, उन्हें गुणवता पूर्ण शिक्षा सवस्थ शेक्षिक वातावरण में मिल रही है।
बाल सभा विद्यार्थियों की सृजनात्मक अभिव्यक्ति का सशक्त मंच है, अतः संस्थाप्रधान बच्चों को उनकी रूचि के अनुसार मौका प्रदान करें। विद्यार्थियों की रचनाओं को शिविरा में भी विशेष रूप से स्थान देकर इसे बालसभा विशेषांक के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है।
सभी के उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ।

                                                                                                            नथमल डिडेल

I.A.S.
                                      निदेशक, माध्यमिक शिक्षा 
                                 राजस्थान, बीकानेर

Shivira Panchang

Home

राजस्थान की प्रारम्भिक शिक्षा एवं माध्यमिक शिक्षा के समस्त राजकीय, मान्यता प्राप्त गैर सरकारी/CBSE/CISCE से सम्बद्ध विद्यालयों/अनाथ बच्चों हेतु संचालित आवासीय विद्यालयों/विशेष प्रशिक्षण शिविरों एवं शिक्षक प्रशिक्षण विद्यालयों के लिए सत्र 2018-2019 का यह शिविरा पंचांग प्रस्तुत है। इसके अनुसार ही सत्रपर्यन्त विद्यालयी कार्यक्रम, अवकाश, परीक्षा, खेलकूद प्रतियोगिता आदि का आयोजन अनिवार्य है। 

Latest News

>राजस्थान सरकार के मृत राज्य कर्मचारियों के आश्रितों को अनुकम्पात्मक नियुक्ति के बकाया प्रकरण का 10 दिवस में अविलम्ब  निस्तारण करने बाबत समस्त जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय) माध्यमिक को निर्देश पत्र 
> वरिष्ठ अध्यापक विशेष शिक्षा 2015 मण्डल आवंटन 
>सत्र 2019-20 हेतु CBSE/CISCE नई दिल्ली से सम्बद्धता प्राप्त करने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करने के सम्बन्ध में 
>महात्मा गाँधी राजकीय विद्यालय(अंग्रेजी माध्यम) में पदस्थापन हेतु वाक-इन-इंटरव्यू हेतु विज्ञप्ति 
>राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर राज्य में प्रत्येक जिला मुख्यालय पर महात्मा गाँधी राजकीय विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) की स्थापना के सम्बन्ध में 

Related Links